मिथिला

Mithila

मिथिला प्राचीन काल में एक राज्य था।

मिथिला जिसे तिरहुत और तिरभुक्ति के नाम से भी जाना जाता है।

इस क्षेत्र के पूर्व में महानंदा नदी, पश्चिम में गण्डकी नदी, उत्तर में हिमालय तथा दक्षिण में गंगा है।

मिथिला भारत के बिहार और नेपाल के दक्षिण-पूर्वी भाग में स्थित है।

यह एक भौगोलिक और सांस्कृतिक क्षेत्र है। मिथिला का मुख्य भाषा मैथिली और बोलने वाले लोग को मैथिल कहा जाता हैं।

हिन्दू धार्मिक ग्रंथ में सबसे पहले मिथिला का उल्लेख रामायण में मिलता है।

इसका उल्लेख महाभारत, पुराण तथा बौद्ध ग्रंथों में भी है।

वर्तमान समय में मिथिला भारत के बिहार राज्य के पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, सीतामढ़ी, दरभंगा, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, वैशाली, मुंगेर, बेगूसराय, खगरिया, सहरसा, मधेपुरा, सुपौल, पूर्णिया, अररिया, कटिहार , किशनगंज, बाँका और भागलपुर जिला है ।

झारखण्ड राज्य के गोड्डा, दुमका, देवघर, साहिबगंज, जामतारा और पाकुड़ जिला है।

वही नेपाल के नव निर्मित क्षेत्र सप्तरी, सीराहा, धनुषा, सर्लाही, रौतहट, बारा और पर्सा जिला तथा मोरर व सुनसरी जिला मिथिलांचल के अंदर ही आते है।

मिथिला एक विशिष्ट भौगोलिक क्षेत्र के साथ-साथ नदी और पहाड़ के प्राकृतिक सीमा से घेरा हुआ है।

मिथिला क्षेत्र में बहुत सी नदिया है जो हिमालय से उत्पन्न होती है।

जिसमे प्रमुख नदिया है- महानन्दा नदी, कोशी नदी, गण्डकी नदी, बागमती नदी, कमला नदी और बलान नदी है। प्राकृतिक रूप से मिथिला धनी हैं।

श्रीराम-सीता से संबंधित विशेष स्थान होने के अतिरिक्त मिथिला महादेव पूजन स्थल के रूप में विशेष प्रसिद्ध रही है ।

मधुबनी चित्रकला अथवा मिथिला पेंटिंग मिथिला क्षेत्र जैसे बिहार के अंदर दरभंगा, पूर्णिया, सहरसा, मुजफ्फरपुर, मधुबनी एवं नेपाल के कुछ क्षेत्रो की प्रमुख चित्रकला है ।

प्रांम्भ में रंगोली के रूप में रहने के बाद यह कला धीरे-धीरे आधुनिक रूप में कपड़ो, दीवारों एवं कागजों पर उतर आई।

मिथिला पेंटिंग के सम्मान को बढ़ाये जाने को लेकर तकरीबन 10,000sq ft में मधुबनी रेलवे स्टेशन के दीवारों को मिथिला पेंटिंग की कलाकृतियों से सरोबर किया गया । वर्तमान में मिथिला पेंटिंग अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध है।

अगर आपको ये लेख अच्छा लगा तो शेयर और कमेंट जरूर करें।

धन्यवाद!

About Nishant Satyam 3 Articles
Satyam Jii, is one of our youngest contributor/bloggers. He brings a lot of variety to our content strategy. Keep checking his space,

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*